यहाँ सर्च करे

संतो ने दी सरकार को चेतावनी, कहा- “मंदिर नहीं तो भाजपा सरकार भी नहीं”


राम मंदिर जमीनी विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई टालने के बाद से जगह-जगह यह मामला तूल पकड़ता जा रहा है । हाल ही में आयोध्या के संतों ने भाजपा को राम मंदिर बनाने की चेतावनी दी थी । जिसके बाद अब हरिद्वार के संत भी सरकार से राम मंदिर बनाने की मांग करते हुए नज़र आ रहे हैं ।

दरअसल हरिद्वार के संत पदम श्री स्वामी सत्यमित्रानंद ने 6 दिसंबर से राम मंदिर बनाने की मांग को लेकर हर की पौड़ी पर अनशन शुरू करने की घोषणा की है। जिसके बाद दक्षिण काली पीठाधीश्वर स्वामी कैलाशानंद ब्रह्मचारी ने भी जल्द राम मंदिर निर्माण न होने पर अनशन की घोषणा कर दी है । स्वामी कैलाशानंद ब्रह्मचारी के मुताबिक वह जल्द ही कई संतों के साथ दिल्ली पहुंच कर राम मंदिर निर्माण को लेकर अंशन पर बैठेंगे। स्वामी कैलाशानंद ने कहा है कि राम मंदिर निर्माण में कोई देरी नहीं होनी चाहिए। सरकार के किए गए वादों के मुताबिक केंद्र की बीजेपी और राज्य सरकार जल्द से जल्द राम मंदिर बनाना शुरू करें ।

साथ ही उन्होंने भाजपा सरकार को चेतावनी भी दी है कि अगर राम मंदिर नहीं बनाया गया तो 2019 चुनाव के बाद केंद्र में और न ही प्रदेश की भाजपा सरकार दोबारा बनेगी । साथ ही उन्होंने सरकार से सवाल किया है कि राम मंदिर अब नहीं बनेगा तो कब बनेगा सरकार को इसका जवाब जल्द से जल्द देना चाहिए ।


Tags::

You Might also Like