यहाँ सर्च करे

“खुश रहने के लिए पत्नी और बच्चों की जरूरत नहीं होती, अविवाहित होना ही प्रसन्नता का राज है” -बाबा रामदेव


योगगुरु बाबा रामदेव विवाह को लेकर बड़ा बयान दिया है, जिसमे उन्होने कहा है कि सफलता और प्रसन्नता का राज केवल अविवाहित होना ही है। उनका कहना है कि खुश रहने के लिए पत्नी और बच्चों की जरूरत नहीं होती, पत्नी और बच्चों के सिवा भी खुश रहा जा सकता है।

हरिद्वार में पतंजलि के आश्रम में ‘ज्ञानकुंभ’ रविवार को कार्यक्रम आयोजित किया गया जहां, स्वामी रामदेव ने कहा कि जो व्यक्ति विवाह नहीं करता उसका सम्मान होना चाहिए और जो विवाह करता है अगर उसके दो से ज्यादा बच्चे होते हैं तो उससे वोट देने का अधिकार छीन लेना चाहिए।

रामदेव आगे कहते हैं कि संत बनने और स्वयं को राष्ट्रसेवा के लिए समर्पित करने से ज्यादा आनंददायक और कुछ नहीं हो सकता है। आपको बता दें कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इस कार्यक्रम में शामिल थे।


Tags::