Type to search

नयी खबर
उप्र के अपर मुख्य सचिव महेश कुमार गुप्ता हुए गिरफ्तार,जानेंLoksabha Election 2019: वीके सिंह की संपत्ति हुई दोगुनी,जानें हेमामालिनी और गडकरी की संपत्तिLok Sabha Election 2019 : जानें बीजेपी के 9 वी में लिस्ट में किसे मिला टिकटपहले चरण के मतदान के बाद लाल बहादुर शास्त्री की मौत पर बनी फिल्म होगी रिलीज,देखें ट्रेलरकांग्रेस का ग़रीब परिवारों को 72,000 रुपये सालाना देने का वादा कितना सच्चा !चुनावी टिकट ना मिलने से भड़के जोशी, इस तरह किया ऐलानराशिद अल्वी ने अमरोहा से वापस किया टिकट तो कांग्रेस ने सचिन को बनाया प्रत्याशीLok Sabha Election 2019 : कांग्रेस 72,000 रुपए सालाना देकर करेगी गरीब परिवारों की मददLok Sabha Election 2019 : 33 करोड़ में लगेगा वोटिंग स्याही का ये निशानजानें, कैसा रहेगा आज का दिन कन्या राशि के जातकों के लिएमुलायम-अखिलेश आय से अधिक संपत्ति मामला: सुप्रीम कोर्ट ने जारी किया CBI को नोटिसअखिलेश यादव को घर का ऑफर, बीजेपी ने किया 6 साल के लिए निष्कासित
खबर राजनीति

मध्यप्रदेश में बीजेपी की एक चूक और कांग्रेस को मिला फायदा

Share

11 दिसंबर को आए चुनाव के परिणामों को देखकर कांग्रेस जहां बहुत ही ज्यादा खुश है तो वहीं मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में सत्ता में रही बीजेपी को बहुत ही ज्यादा नुकसान हुआ है. मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी पिछले 15 सालों से सत्ता में थी लेकिन तीनों जगहों पर कांग्रेस ने बीजेपी को कड़ी टक्कर देते हुए हरा दिया और अब तीनों ही राज्यों में कांग्रेस अपनी सरकार बनाने वाली है.

मध्यप्रदेश में सीएम के चेहरे को लेकर जो सस्पेंश था उससे पर्दा हट चुका है और कमलनाथ राज्य के अगले मुख्यमंत्री होंगे. चुनाव से पहले कमलनाथ ने बहुत ही ज्यादा मेहनत की थी कांग्रेस को जीताने के लिए तो वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया के बारे में भी कहा जा रहा था वो भी सीएम के रेस में हैं. हालांकि चुनाव से पहले बीजेपी ने बहुत ही ज्यादा कोशिश की थी कांग्रेस को राज्य की सत्ता में नहीं आने देने के लिए और उसके लिए ऑनलाइन कैंपेन भी चलाया गया था.

बीजेपी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को निशाना बनाते हुए ‘माफ करो महाराज’ की लाइन से एक अभियान चलाया था. इस अभियान का सीधा मतलब था ज्योतिरादित्य सिंधिया को मुख्यमंत्री नहीं बनने देना है लेकिन बीजेपी कमलनाथ को निशाना बना पाने में नाकाम साबित रही और कमलनाथ अपना काम बहुत ही अच्छे ढंग से करते चले गए. कांग्रेस ने नारा दिया था ‘वक्त है बदलाव का’ इसे लोगों ने पसंद किया और यही वजह है कि 15 सालों बाद कांग्रेस मध्यप्रदेश में जीतने में कामयाब हुई.

Tags:

You Might also Like

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

%d bloggers like this: