कुंभ पहुंचकर अखिलेश ने मां गंगा की खाई कसम और ली ये प्रतिज्ञा

रविवार 27 जनवरी को उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कुंभ मेले में पहुंचे थे और उन्होंने वहां संगम में डुबकी लगाकर भगवान का आशिर्वाद लिया। अखिलेश यादव की कुंभ की तस्वीरें काफी ज्यादा वायरल हो रही है और सपा मुखिया ने इस दौरान अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी से मुलाकात की। लोकसभा चुनाव बहुत नजदीक है और अखिलेश ने साधु-संतों से आशिर्वाद ली और सत्तरुढ़ पार्टी बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। इस दौरान अखिलेश यादव ने एक कमस भी खाई है।



संतों से आशिर्वद लेने के बाद अखिलेश ने गंगा मां की कसम खाकर कहा है कि, अगर वो दोबारा सत्ता में वापस लौटते हैं जातिगत आंकड़े पेश करेंगे, जिससे जाति पर आधारित राजनीति को खत्म किया जा सके। इस दौरान अखिलेश ने केंद्र की बीजेपी सरकार और राज्य की बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा और माग की है कि, किले को सेना के कब्जे से मुक्त कराना चाहिए जिससे आम श्रद्धालु भी सरस्वती के दर्शन कर सके। उन्होंने कहा कि, अगर ये काम योगी सरकार से नहीं हो सकता तो कैबिनेट ने प्रस्ताव पास कर इसे केंद्र सरकार के पास भेजना चाहिए।

अखिलेश यादव ने योगी सरकार के प्रयागराज कैबिनेट बैठक पर तंज कसते हुए कहा कि, किसान परेशान हैं, फसले बर्बाद हो रही है। लेकिन सीएम 24 घंटे में मंदिर बनाने की बात कर रहे हैं। पहले किसान के खेतों को सांडो से बचा लो, मंदिर बनाने की बात दूसरी है। जानकारी के लिए बता दें, योगी सरकार की कैबिनेट बैठक 29 जनवरी को होने जा रही है।

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |