यहाँ सर्च करे

क्या 10 दिसंबर को अखिलेश और मायावती जाएंगे महागठबंधन की बैठक में? जानिए यहाँ


पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव खत्म होने की कगार पर हैं। सबकी नजर इन राज्यों के 11 दिसंबर को आने वाले नतीजों पर है। माना जा रहा है कि ये चुनाव परिणाम 2019 के लोकसभा चुनाव में विपक्ष के रुख को दिशा देंगे। इसी क्रम में चुनाव परिणाम से एक दिन पहले 10 दिसंबर को कांग्रेस ने विपक्षी एकजुटता के लिए दिल्ली में अहम बैठक बुलाई है।

महागठबंधन को लेकर कांग्रेस की इस पहल पर उत्तरप्रदेश के दो दिग्गज दलों के नेता मायावती और अखिलेश यादव के शामिल होने पर संशय बरकरार है। दरअसल विधानसभा चुनावों के बाद बदली परिस्थितियों में अखिलेश और मायावती बिना कांग्रेस के साथ आते दिख रहे हैं। बता दें दोनों ही नेताओं ने चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस पर जमकर निशाना भी साधा है।




बता दें बीजेपी के खिलाफ इन दलों को करीब लाने का जिम्मा TDP अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने उठाया है। चंद्रबाबू अलग-अलग नेताओं से मुलाकात भी करते रहे हैं।

हालांकि बसपा और सपा ने इस संबंध में अभी तक कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है। लेकिन सस्पेंस इसलिए है क्योंकि पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में पहले मायावती और अखिलेश यादव ने कांग्रेस पर बेरुखी का आरोप लगाया और चुनाव प्रचार के दौरान लगातार कांग्रेस पर हमलावर रहे।

माया ने आरोप लगाया था कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह RSS के एजेंट हैं।


Tags::

You Might also Like

न्यूज़१ इंडिया की खबरों को पाने के लिए ALLOW बटन पर क्लिक करे|