ममता के मंच से अखिलेश की हूंकार- ‘सपा-बसपा गठबंधन से बीजेपी चिंतित’

19 जनवरी को पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में विपक्षी दलों की महारैली हुई जिसकी अगुवाई ममता बनर्जी ने की। इस रैली में विपक्ष के बड़े-बड़े नेता समेत बीजेपी के सांसद शत्रुघन सिन्हा भी पहुंचे थे। इस दौरान अरविंद केजरीवाल से लेकर यशवंत सिन्हा तक बीजेपी को निशाने पर लेकर जमकर हमला किया। यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी मंच से अपनी हूंकार भरते हुए बीजेपी के लिए कहा कि, सपा-बसपा गठबंधन हो जाने की वजह से भाजपा काफी ज्यादा चिंतित है और यही कारण है कि हर सीट के लिए बीजेपी मीटिंग कर रही है और रणनीति तैयार कर रही है।



उन्होंने पीएम मोदी द्वारा कही गई बात कि, विपक्षी दलों का प्रधानमंत्री उम्मीदवार कौन होगा। इसपर अपनी बात रखते हुए अखिलेश ने कहा कि, पीएम मोदी विपक्ष से प्रधानमंत्री उम्मीदवार का नाम जानना चाहते हैं तो हम बता दें इसका फैसला हमारे लोग करेंगे। लेकिन बीजेपी की ओर से इस नाम(नरेंद्र मोदी) ने देश की जनता को निराश किया है तो ऐसे में आपका अगला नाम कौन होगा। उन्होंने ये भी कहा कि, विपक्षी दलों ने आम लोगों के साथ गठबंधन किया है लेकिन बीजेपी वालों ने ईडी और सीबीआई के साथ समझौता किया है।

जानकारी के लिए आपको बता दें, अखिलेश यादव मंच पर बसपा के प्रतिनिधी के रूप में रैली में पहुंचे महासचिव सतिश चंद्र मिश्रा के बगल में बैठे थे। अखिलेश के साथ ही रालोद के नेता चौधरी अजीत सिंह और उनके बेटे जयंत सिंह भी मंच पर मौजूद थे। अपने भाषण के दौरान अखिलेश यादव ने ये भी कहा था कि, देशभर के लोग नए साल का जश्न मना रहे हैं और उम्मीद करते हैं कि नए साल में नया प्रधानमंत्री मिल जाए तो खुशी दोगुनी हो जाएगी।

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |