Type to search

नयी खबर
Holi 2019 : अब भांग का नशा उतरेगा आसानी सेHoli 2019 : इन चीज़ों की मदद से त्वचा से छुड़ाए होली के रंगHoli 2019 : होली पर किसी भी तरह की शैतानी पड़ेगी महंगी Holi 2019 : होली के चलते मेट्रो के समय में बदलावHoli 2019 : अचानक घर आने वाले मेहमानों से परेशान न हो…Holi 2019 : स्किन और बालों की फ़िक्र छोड़, जमकर खेलें होलीHoli 2019 : जानें, कितने नुकसानदायक हैं ये चमचमाते होली के रंगजानें,होली पर किस राशि के जातकों के लिए नशा करना है बुराHoli 2019 : इन गानों बिना होली का त्यौहार अधूरा हैरिश्तेदार के कांग्रेस में शामिल होने पर महेंद्र नाथ पाण्डेय ने दिया बड़ा बयानबीजेपी के ‘शत्रु’ जाएंगे कांग्रेस के साथ, पटना साहिब से लड़ेंगे चुनाव !जानें हिंदुस्तान की राजनीति में किस नेता ने वंशवाद को दिया बढ़ावा
खबर देश

बुलंदशहर हिंसा में शहीद हुए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की बहन का यूपी पुलिस पर गंभीर आरोप

Share

बुलंदशहर में गोकशी की खबर पर हुए हिंसक प्रदर्शन ने सबको हिला कर रख दिया है। इस हिंसा की चिंगारी काफी दूर तक पहुंची लेकिन जो नुकसान होना था वो तो हो चुका है। इस हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को शहीद होना पड़ा तो वहीं CO समेत 5 पुलिसवाले इसमें घायल हो गए। लेकिन इस हिंसा में शहीद हुए SHO सुबोध की बहन ने कई गंभीर आरोप यूपी पुलिस पर लगा दिए है।

बता दें कि SHO सुबोध की बहन ने अपने भाई की मृत्यू को अखलाक केस से जुोड़ कर बताया कि ‘मेरे भाई की हत्या अखलाक केस की जांच करने के चलते की गई है. उनकी हत्या में पुलिस भी शामिल है’ ये बेहत ही संगीन आरोप शहीद सुबोध की बहन ने पुलिस पर लगाया है।

इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की बहन ने कई गंभीर सवाल उठाते हुए कहा कि मेरे भाई को अकेला क्यों छोड़ा गया? उन्होंने आगे पूछा कि भाई के साथ मौजूद दरोगा और ड्राइवर भाई को अकेला छोड़कर कहां चले गए थे?

आपको बता दें कि शहीद की बहन ने कई गंभीर सवाल उठाए है, उन्होंने कहा – अखलाक मामले की जांच करने के चलते उनके भाई को मारा गया है. ये पूरी साजिश है. उन्होंने सवाल उठाए कि मेरा भाई पुलिस जीप में अकेला क्यों था। उन्होंने कहा कि सुबोध की हत्या की गई और उसमें पुलिस भी साथ थी।

योगी आप ही करे गोरक्षा

इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की बहन ने सीएम योगी से कहा कि आप खुद क्यों नहीं कर लेते गोरक्षा? आप खुद करके दिखाओ?, शहीद की बहन ने सीएम योगी से मांग की कि मेरे भाई को शहीद का दर्जा दिया जाए. एटा के पैतृक गांव में उनका शहीद स्मारक बनाया जाए. सुबोध की बहन ने कहा कि हमारे पिता भी ऐसे ही ड्यूटी करने के दौरान गोली लगने से शहीद हुए थे. हम लोग बहुत बहादुर हैं. उन्होंने सीएम योगी से मांग की है कि वे उनके परिवार से आकर मिलें।

Tags:

You Might also Like

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

%d bloggers like this: