CM Yogi को बच्चों ने कहा ये तो बाबा जी हैं, यूपी की इस जगह हुई घटना !

बच्चों ने दिया सीएम योगी के सवालों के जवाब, लेकिन पहचान नहीं पाए मुख्यमंत्री को !

मदारा: उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ हमेशा अपने अलग अंदाज के लिए जाने जाते हैं। इस बार सीएम योगी ने अपने निरीक्षण कार्यक्रम में बच्चों से सवाल किए लेकिन मुख्यमंत्री को पहचानने के सवाल पर बच्चों ने योगी को बाबा की उपाधि दे दी। चलिए आपको बताते हैं आखिर मामला क्या है।

निरीक्षण के दौरान बच्चों से पूछे सवाल !

सूबे के मुखिया इलाके का मुआयना करने निकले, बहजोई के पास मदारा गांव के एक स्कूल में पहुंचे। मुख्यमंत्री को देखकर पहले तो बच्चे सहम गए लेकिन फिर योगी जादू चल गया मसलन योगी ने बच्चों से अपनत्व का रिश्ता कायम कर लिया। फिर सवालों का दौर चला तो बच्चों ने भी डट कर जवाब दिए। योगी आदित्यनाथ ने बच्चों से उनके नाम पूंछे फिर स्कूल में खाना मिलने की बात की। साथ ही बच्चों को आशीर्वाद भी दिया खूब पढ़ो खूब बढ़ो, देख का नाम रोशन करो। इसी बीच एक वाक्या ऐसा भी हुआ जहां कक्षा के बच्चों से मुख्यमंत्री की तरफ इशारा करके पूछा गया कि ये कौन हैं तो बच्चों ने कहने लगे यह बाबा जी हैं। मुख्यमंत्री को बच्चे नहीं पहचान पाए।

बच्चों के जवाब आप भी जानिए !

सूबे के मुखिया इस बार जब दौरे पर निकले तो उन्होंने बच्चों से मुलाकात की। मुख्यमंत्री के साथ बलदेव सिंह औलख, राज्यमंत्री गुलाब देवी, सत्यपाल सैनी व एमएलसी जयपाल सिंह व्यस्त के साथ कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय पहुंचे। स्कूल पहुंचते ही छात्राओं ने पुष्पवर्षा से उनका स्वागत किया। इसके बाद मुख्यमंत्री स्कूल परिसर में बनी पंचवटी में अशोक के पौधे लगाए। फिर वह अकेले ही कक्षा 5 के छात्र-छात्राओं से रूबरू होने पहुंच गए। वहां बच्चों से सवाल किया कि रोज स्कूल आते हो ? फिर मुख्यमंत्री बोले, इस क्लास में इतने ही बच्चे हैं। इसके बाद कक्षा 4 से कक्षा 1 तक के सभी बच्चों से मिले। वहां उन्होंने ड्रेस और जूतों के बारे में सवाल किया। इसी बीच राज्यमंत्री गुलाब देवी ने उनकी तरफ इशारा करते हुए पूछा कि यह कौन है। तो पहले बच्चे सहम गए लेकिन बाद में जवाब दिया। ये तो बाबा जी हैं। शिक्षा विभाग ने स्कूल का कायाकल्प करने में तमाम मशक्कत की थी। इसके बावजूद सीएम की क्लास में शिक्षा विभाग कहीं फेल तो कहीं पास होता दिखाई दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *