मुज्जफरनगर दंगा: आखिरकार 5 साल बाद आया कोर्ट का फैसला और दोषियों को मिली सजा

साल 2013 में उत्तर प्रदेश के मुज्जफरनगर में एक बहुत बड़ा दंगा हुआ था और उस दंगे में कई सारे लोगों की जान चली गई थी। इस दंगे की आग की शुरुआत हुई थी मुज्जफरनगर के कवाल गांव से जहां गौरव और सचिन नाम के दो युवक को मार दिया गया था। इनकी हत्या के आरोप में मुजम्मिल, मुज्जसिम, फरुका, नदीम, जांगीर और इकबाल को दोषी ठहराया गया था और सभी आरोपियों के खिलाफ मुकदमा चल रहा था।

अब पांच साल बाद कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए सभी सातों आरोपियों को उम्रकैद की सजी सुना दी है। कोर्ट के फैसले के बाद मृतक गौरव के पिता ने कहा कि, हमें पता था कि, कोर्ट के फैसले में थोड़ा वक्त तो जरुर लगेगा लेकिन हमें इंसाफ भी मिलेगा। उन्होंने कहा कि, हम केवल इतना जानते हैं कि अब हम गौरव से कभी नहीं मिल पाएंगे लेकिन दोषियों को सजा मिलने से थोड़ी राहत पहुंची है।

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |