Type to search

नयी खबर
मनोहर पर्रिकर की वो आखिरी इच्छा जो पूरी नहीं हो सकी…प्रियंका गांधी ने बताया- ‘इस वजह से उनको घर से निकलकर राजनीति में आना पड़ा’मायावती और अखिलेश के ‘वार’ के बाद प्रियंका गांधी की दो टूक…जब पर्रिकर के एक फैसले ने बचाए थे देश के 49,300 करोड़ रुपयेमायावती के बाद अब अखिलेश यादव का कांग्रेस पर ‘ट्वीट वार’प्रियंका गांधी का पीएम मोदी पर तीखा हमला, चौकीदार तो अमीरों के होते हैंसपा-बसपा को कांग्रेस के ‘रिटर्न गिफ्ट’ पर मायावती की खरी-खरीकेंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने प्रियंका गांधी को लेकर दिया विवादित बयान,देखें वीडियोतो इस वजह से अखिलेश ने अपर्णा को नहीं उतारा चुनावी मैदान में…गांधी खानदान में इंदिरा गांधी के बाद प्रियंका गांधी पहुंची यहाँ, जानेजानें कांग्रेस के सपा-बसपा-RLD गठबंधन के लिए 7 सीट छोड़ने के क्या हैं मायने!मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद कांग्रेस ने सरकार बनाने के लिए ठोका दावा
धर्म

महाशिवरात्रि 2019 : भगवान शिव को भूल कर भी न चढ़ाएं ये फूल…

Share
महाशिवरात्रि

देश भर में लोग आज महाशिवरात्रि का त्यौहार मनाने में लगे हुए हैं। काम पर जाने से पहले आप भी समय न होने पर भी जल्दी जल्दी मंदिर में जल चढ़ाना नहीं भूले होंगे। कितना भी कोई व्यस्त क्यों न हो लेकिन भगवान शिव के दर्शन के लिए मंदिर की लम्बी लाइन में घंटों खड़े होने के लिए समय निकल ही लेता है। ये ही हमारे देश की पहचान है, धर्म, त्यौहार आदि चीज़ों का महत्व क्या होता है ये हमारे देश में ही देखने को मिलता है।

मान्यता है कि इस दिन भगवान शिव की आराधना से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं और व्यक्ति को सभी संकटों से मुक्ति मिलती है। शायद इसीलिए ही महाशिवरात्रि को भगवान शिव का सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण पर्व माना जाता है।  इस दिन को ‘शिव की रात्रि’ के रूप में भी जाना जाता है। सुनने में तो यहाँ तक आता है कि इस दिन भगवान शिव ने पृथ्वी को नष्ट होने से बचाया था ग्रंथों में वर्णन मिलता है कि इसी दिन रात्रि में शिव जी का विवाह भी हुआ था। इसलिए दुनियाभर में महाशिवरात्रि की रात चार प्रहर की पूजा की जाती है।

हर इंसान चाहता है कि भगवान शिव कभी उससे नाराज़ न हो क्यूंकि सबको पता है भगवान शिव अगर नाराज़ हो जाये तो हर बनता काम भी बिगड़ जाता है। अगर आप भी भगवान शिव को नाराज़ नहीं करना चाहते तो न शिवरात्रि पर ये काम भूल कर भी न करें।…

  • भगवान शिव को चंपा और केतकी के फूल नहीं चढ़ाना चाहिए। क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि भगवान शिव ने इन फूलों को शापित किया था।
  • अगर आपको भी ज़्यादा सोने की आदत है तो शिवरात्रि के दिन थोड़ा सा अपनी आदत को बदल लीजिये क्यूंकि महाशिवरात्रि पर रात्रि जागरण करने का बहुत महत्व होता है। जागरण में रातभर भगवान शिव के भजन गाएं और आरती करें।
  • शिवलिंग पर कभी भी तुलसी की पत्ती नहीं चढ़ाना चाहिए। शिवलिंग पर ठंडा दूध ही चढ़ाएं। ध्यान दें कि पाश्चुरीकृत या पैकेट का दूध शिवलिंग पर न चढ़ाएं।
  • शिवरात्रि के दिन ज़्यादातर लोग व्रत रखते है अगर किसी कारण आप व्रत नहीं रख पाएं हैं तो चावल, गेंहू आदि चीजों का सेवन ना करें। बल्कि फल, दूध, चाय, कॉफी का ही इस्तेमाल करें।
  • शिवरात्रि पर शिवजी को बेर जरूर अर्पित करें क्योंकि बेर को चिरकाल का प्रतीक माना जाता है।
  • शिवलिंग पर अभिषेक के लिए कभी भी स्टील, प्लास्टिक के बर्तनों का प्रयोग ना करें।
  • शिवरात्रि के दिन काले रंग के कपड़ों को पहनना अशुभ माना जाता है। इसलिए इस दिन काला रंग छोड़ बाकि रंगों के कपड़ें पहने।
Tags:

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

%d bloggers like this: