डॉक्टर ने किया बड़ा खुलासा, बचाया जा सकता था डॉ. हाथी को !

डॉ. हाथी को बचाया जा सकता था, डॉक्टर ने किया मौत के बाद बड़ा खुलासा !

मुंबई: तारक मेहता का उल्टा चश्मा के मशहूर किरदार डॉ. हंसराज हाथी अब हमारे बीच नही हैं। सोमवार दोपहर को दिल का दौरा पड़ने से कवि कुमार आजाद का निधन हो गया। अचानक हुई इस घटना से टीवी कलाकार के साथ फैंस भी सदमें में है। लेकिन इन सब के बीच वॉकहार्ट्ज अस्पताल के डॉक्टर ने चौकाने वाला खुलासा किया है। डॉक्टर का कहना है कि कुमार अजाद को बचाया जा सकता था। उनके भाई ने उन्हें बताया कि कुमार को 3-4 सालों से सांस लेने और सोने में तकलीफ थी। लेकिन उन्होंने इसको नजरअंदाज करते हुए उन्होंने किसी डॉक्टर से बात नही की। एक फिजीशियन से इलाज कराते रहे। अगर सही टाइम पर इलाज करा लेते तो उनकी जान बचाई जा सकती थी।

बचपन से ही था कुमार आजाद को एक्टिंग का शौक

बता दें, कवि कुमार को बचपन से ही एक्टिंग का काफी शौक था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उन्हें एक्टर ही बनना था पर उनके घर की हालत ठीक ना होने के कारण घरवाले इस फैसले के खिलाफ थे और इसलिए वह अपने घर से भाग कर मुंबई जा पहुंचे थे। वहां वो किसी से परिचित भी नहीं थे और उनका ना ही कोई ठिकाना था। जेब में फूटी कौड़ी नहीं थी। जिस वजह से वो घर का किराया देने के भी पैसे नहीं जुटा पाते थे। उस दौर में कवि कुमार ने सड़कों पर सोकर भी कई रातें काटी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *