Type to search

नयी खबर
मायावती ने पीएम से किया अनुरोध, कहा- जब तक हमले के कारणों का…पुलवामा हमले को लेकर सोनू निगम का कटाक्ष, ‘दुख मनाना सिर्फ RSS का काम’ये महिला खिलाड़ी 120 किमी की दूरी तय कर दे रहीं हैं ’12वीं की बोर्ड परीक्षा’जानें 15 फरवरी की महत्वपूर्ण घटनाएं, आज का इतिहासपुलवामा आतंकी हमले से बॉलीवुड में भी रोष, ट्विटर पर सितारों ने बयां किया दर्दपाकिस्तान को लेकर भारत सरकार का बड़ा फैसला, छीन लिया ये तमगापुलवामा आतंकी हमले के बाद केंद्र सरकार ने लिए ये बड़े फैसले, जानेंजवानों की मौत का मातम मना रहा है देश लेकिन सरकारी रिकोर्ड में नहीं कहलाएंगे ‘शहीद’पुलवामा हमले पर पीएम मोदी का बड़ा ऐलान,कहा- बहुत बड़ी…पाकिस्तान के नापाक मंसूबों को रोकने के लिए मोदी सरकार का बड़ा फैसला !पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों की लिस्ट आई सामने, देंखेंजैश-ए-मोहम्मद आतंकी ने हमले की ली जिम्मेदारी
गैजेट

गूगल प्ले स्टोर के ये फेमस ऐप्प आपको दे रहे हैं धोखा, कर रहे हैं फ्रॉड? जानें यहाँ

Share

गूगल प्ले स्टोर की कमजोरियां आये दिन सामने आती रहती हैं। अभी हाल ही में गूगल प्ले स्टोर पर 13 खतरनाक ऐप्स पाए गए और इसे गूगल ने नहीं, बल्कि एक सिक्योरिटी रिसर्चर ने ढूंढा। हालांकि गूगल ने इन ऐप्स को हटा लिया है। अब एक नई रिपोर्ट के मुताबिक 8 पॉपुलर ऐप्स गूगल प्ले स्टोर पर पाए गए जो फ्रॉड स्कीम के तहत थे।

बजफीड न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक ये 8 ऐप्स हैं और इनके 2 अरब डाउनलोड्स हैं। ये यूजर परमिशन का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। ऐप ऐनालिटिक कंपनी कोचावा रिसर्च के मुताबिक ये ऐप्स एक फ्रॉड स्कीम के तहत हैं जो लाखो करोड़ों की चपत लगाने के काबिल थे।

चौंकाने वाली बात ये है कि 8 में से 7 ऐप्स चीता मोबाइल के हैं। ये कंपनी चीन की है और यह न्यू यॉर्क स्टॉक एक्स्चेंज में लिस्ट की गई है। इसके अलावा दूसरा ऐप किका टेक का है और ये भी चीनी कंपनी है जिसका हेडक्वॉर्डर अमेरिका के सिलिकॉन वैली में है। इस कंपनी में 2016 में चीता मोबाइल ने काफी निवेश किया था।

रिपोर्ट के मुताबिक ये दोनों चीनी कंपनियों के ऐप्स यूजर्स द्वारा स्मार्टफोन में डाउनलोड की गई जानकारियों पर नजर रखते थे और इनका मकसद उन डेवेलपर्स का पैसा उड़ाना था जो ऐप इंस्टॉलेशन के लिए अक्सर 50 सेंट्स से 3 डॉलर लेते थे। Kochava रिसर्च के मुताबिक चीता मोबाइल और Kika Tech एंड्रॉयड यूजर्स द्वारा डाउनलोड किए गए ऐप्स पर नजर रखती थीं।

जिन ऐप्स पर फ्रॉड का इल्जाम लगा है उसमें क्लीन मास्टर, CM फाइल मैनेजर, CM लॉन्चर 3D, सिक्योरिटी मास्टर, बैटरी डॉक्टर, CM लॉकर और चीता लॉकर शामिल हैं। जबकि किका टेक के किका कीबोर्ड पर भी फ्रॉड का इल्जाम लगा है।

चीता मोबाइल और किका टेक ने फ्रॉड से साफ इनकार किया है और इसके लिए उन्होंने थर्ड पार्टी सॉफ्टवेयर डेवेलपमेंट किट पर इल्जाम लगाया है लेकिन बावजूद इसके कोचवा रिसर्च ने कहा है कि कि ये किसी थर्ड पार्टी डेवेलपर्स के नहीं, बल्कि इन्हीं कंपनियों के हैं।

Tags:
%d bloggers like this: