crime

यूपी के बाद अब उत्तराखंड में लगातार बढ़ रहे हैं दुष्कर्म के मामले, पढ़ें खबर

उत्तराखंड जुर्म

देहरादून : यूपी के बाद अब दुष्कर्म के मामले उत्तराखंड में काफी बढ़ते दिख रहे हैं। आए दिन नाबालिग लड़कियों और महिलाओं के साथ हो रहे दुष्कर्म के मामले सामने आते हैं। दुष्कर्म और गैंगरेप के मामले काफी बढ़ते जा रहे हैं जिसमें हमारी सरकार भी काफी ढिली नज़र आ रही है। हाल ही में दुष्कर्म से संबंधित एक और मामला सामने आया है जिसको सुनने के बाद हर किसी के होश उड़ गए हैं।

दरअसल, आपको बता दें कि ये मामला उत्तराखंड सहसपुर के सभावाला जिले का है जहां एक 11 साल कि बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पहले तो आरोपी ने 11 साल की बच्ची के साथ दुराचार किया उसके बाद उसकी हत्या कर आरोपी ने उस बच्ची के शव को एक इंजीनियरिंग कॉलेज के निर्माणाधीन भवन में दफनाया दिया था।

क्या है पूरा मामला

खबरों के मुताबिक, बालिका शनिवार सुबह से गायब थी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची सहसपुर पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। एसपी देहात सरिता डोभाल और सीओ पंकज गैरोला ने भी घटनास्थल का मुआयना किया। पुलिस ने संदेह के आधार पर जयप्रकाश नाम के शख्स को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। मौके पर पहुंचीं एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बालिका के साथ दुराचार की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि आज शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

सहसपुर थानाध्यक्ष नरेश राठौड़ के अनुसार, मध्य प्रदेश से एक परिवार मजदूरी के लिए इंजीनियरिंग कॉलेज आया है। यहां इन दिनों एक भवन का निर्माण चल रहा है। शनिवार सुबह परिवार की 11 वर्षीय एक बालिका भवन के पास ही अपने दो छोटे भाई-बहनों के साथ खेल रही थी। कुछ देर बाद वह वहां से अचानक गायब हो गई। काफी देर तक उसका पता नहीं चला तो परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

इसी बीच आसपास के लोगों ने कॉलेज के निर्माणाधीन भवन में बच्ची का शव पड़ा देखा तो उन्होंने पुलिस और परिजनों को इसकी जानकारी दी। परिजनों से पूछताछ के आधार पर पुलिस का कहना है कि मैदान में खेलते वक्त कुछ लोग वहां आए और दोनों बच्चों को 10-10 रुपये देकर सामान लाने दुकान भेज दिया।

मामला गंभीर है। 11 वर्ष की बालिका से दुराचार हुआ है और फिर उसकी हत्या कर शव को दफनाया गया है। कुछ लोगों के हिरासत में लेकर पूछताछ की गई, इसके बाद आरोपी का नाम सामने आया। देर रात तक उसकी गिरफ्तारी कर ली जाएगी। -निवेदिता कुकरेती, एसएसपी

दोषी पाए जाने पर होगी फांसी

मामले में आरोपी यदि दोषा पाया जाता है तो उसे फांसी की सजा हो सकती है। हाल ही में पॉक्सो एक्ट में किए गए बदलाओं के अनुसार, 12 वर्ष से कम की बालिकाओं के दुराचार के बाद हत्या में फांसी की सजा का प्रावधान किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.