वाराणसी पुल हादसे में शव की कीमत 200 रुपए

उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय

सौदेबाजी का वीडियो वायरल, आरोपी को किया गया सस्पेंड

वाराणसी : कैंट रेलवे स्टेशन के पास निर्माणाधीन फ्लाईओवर का एक हिस्सा मंगलवार को गिर गया । जिससे अभी तक 18 लोगों के मरने की पुष्टि हुई है । इस हादसे के बाद पूरे देश में शोक की लहर है, अभी मरने वालों के परिजनों के आंख के आंसू भी नहीं सूखे थे कि वाराणसी के अस्पताल से वायरल हो रहे एक वीडियो ने इंसानियत को शर्मसार कर दिया है । ये वीडियो अस्पताल में हो रहे भ्रष्टाचार का रुप दुनिया के सामने ला रहा है । इस वीडियो में सफाई कर्मचारी हादसे में मारे गए लोगों का शव देने के बदले परिजनों से 200 रुपए की मांगता दिख रहा है ।

आरोपी सफाई कर्मी को किया गया सस्पेंड

इस वीडियो के वायरल होने के बाद डीएम साहब ने कार्रवाई कर आरोपी को सस्पेंड कर दिया । आपको बता दें कि बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में सर सुंदर लाल अस्पताल की मॉर्चरी में तैनात सफाई कर्मचारी ने मृतकों के परिजनों को शव देने के एवज में 200 रुपए की मांग की । शव के बदले पैसों की मांग पर परिजन भड़क गए । वहां मौजूद कुछ लोगों ने मोबाइल से इसका वीडियो भी बना लिया । देखते ही देखते वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया ।

पुल हादसे में चार अधिकारी हो चुके है निलंबित

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी पुल गिरने के मामले में सेतु निगम के चीफ़ प्रोजेक्ट मैंनेजर एचसी तिवारी, प्रोजेक्ट मैनेजर राजेन्द्र सिंह और के.आर सूडान को सस्पेंड कर दिया है । साथ ही एक अन्य कर्मचारी लालचंद को भी सस्पेंड किया गया है । आपको बता दें कि यह जानकारी मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्विट कर दी । इन अधिकारियों पर सुरक्षा मानकों का पालन नहीं करने का आरोप है । मामले में यूपी सरकार ने मुआवजे का ऐलान भी किया है, वहीं, घटना की उच्चस्तरीय जांच बैठा दी गई है ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.