Holi 2019 : होली पूजा के साथ भगवान विष्णु की भी पूजा करें

आज फाल्गुन मास की पूर्णिमा है। आज रात ही होलिका दहन होगा जिसके साथ ही होलाष्टक समाप्त हो जाएगा। हर त्यौहार की कुछ मान्यताएं होती हैं जिसके अनुसार हम सब कार्य करतें हैं। होलाष्टक समाप्त होते ही सभी तरह के मांगलिक काम फिर से शुरू हो जाएंगे। बता दें कि होली का त्यौहार मुख्यत: प्रहलाद और भगवान विष्णु से संबंधित है। इसीलिए होलिका की पूजा के साथ ही भगवान विष्णु की भी पूजा करनी चाहिए।

फाल्गुन मास की पूर्णिमा पर कौन-कौन से शुभ काम करने चाहियें …

  • हनुमान जी की प्रतिमा के दर्शन करें। हनुमान चालीसा का पाठ करें। किसी गरीब को जूते या चप्पल का दान करें।
  • फाल्गुन मास की पूर्णिमा बुधवार को है इस दिन भगवान गणपति को दूर्वा चढ़ाएं। 108 बार श्री गणेशाय नम: मंत्र का जाप करें।
  • इस दिन घर में सत्यनारायण भगवान की कथा सुने या खुद ही पढ़ लें। भगवान विष्णु को हलवे का भोग लगाएं।
  • पंचामृत से शिवजी का अभिषेक करें। कच्चा दूध, घी, दही, शकर और शहद मिलाकर पंचामृत बनाएं और शिवलिंग पर चढ़ाएं। पंचामृत चढ़ाते समय ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जाप करें।
  • सुबह जल्दी उठना कितना ज़रूरी है ये हम सभी जानते हैं। लेकिन बहुत से लोग नौकरी के चलते सुबह उठ नहीं पाते ऐसे में पूर्णिमा पर सुबह जल्दी उठें और नहाने के बाद तांबे के लोटे से सूर्य को जल चढ़ाएं। जल चढ़ाते समय ऊँ आदित्याय नम: मंत्र का जाप करें।
  • पीले रंग के फल का दान करें। जैसे केले, आम आदि।

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |