Type to search

नयी खबर
उप्र के अपर मुख्य सचिव महेश कुमार गुप्ता हुए गिरफ्तार,जानेंLoksabha Election 2019: वीके सिंह की संपत्ति हुई दोगुनी,जानें हेमामालिनी और गडकरी की संपत्तिLok Sabha Election 2019 : जानें बीजेपी के 9 वी में लिस्ट में किसे मिला टिकटपहले चरण के मतदान के बाद लाल बहादुर शास्त्री की मौत पर बनी फिल्म होगी रिलीज,देखें ट्रेलरकांग्रेस का ग़रीब परिवारों को 72,000 रुपये सालाना देने का वादा कितना सच्चा !चुनावी टिकट ना मिलने से भड़के जोशी, इस तरह किया ऐलानराशिद अल्वी ने अमरोहा से वापस किया टिकट तो कांग्रेस ने सचिन को बनाया प्रत्याशीLok Sabha Election 2019 : कांग्रेस 72,000 रुपए सालाना देकर करेगी गरीब परिवारों की मददLok Sabha Election 2019 : 33 करोड़ में लगेगा वोटिंग स्याही का ये निशानजानें, कैसा रहेगा आज का दिन कन्या राशि के जातकों के लिएमुलायम-अखिलेश आय से अधिक संपत्ति मामला: सुप्रीम कोर्ट ने जारी किया CBI को नोटिसअखिलेश यादव को घर का ऑफर, बीजेपी ने किया 6 साल के लिए निष्कासित
खबर राजनीति

गठबंधन से कांग्रेस को बाहर रखने पर मायावती का बड़ा खुलासा

Share
गठबंधन से कांग्रेस को बाहर रखने पर मायावती का बड़ा खुलासा

समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीट गठबंधन हो गया है और दोनों पार्टी के बड़े नेता मायावती और अखिलेश यादव ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस बारे में जानकारी दी। इस दौरान मायावती ने बताया कि, लोकसभा चुनाव के 80 सीटों में से 38-38 सीटों पर दोनों पार्टी चुनाव लड़ेगी। 2 सीट अन्य सहयोगी पार्टियों के लिए छोड़ा गया है और साथ ही अमेठी और रायबरेली में गठबंधन का कोई भी उम्मीदवार नहीं उतारा जाएगा।

अब लोगों के दिमाग में ये बात आ रही होगी कि, राजस्थान और मध्यप्रदेश में सपा और बसपा ने कांग्रेस को समर्थन देकर सरकार बनाने में मदद की तो यूपी में गठबंधन में कांग्रेस को क्यों नहीं शामिल किया गया ? तो आपको बता दें, मायावती ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि, हमने जब भी कांग्रेस के साथ गठबंधन किया है हमारा फायदा नहीं बल्कि हमारे वोट शेयर में घाया हुआ है। इसके साथ ही चुनाव के परिणाम में कांग्रेस के गठबंधन होने से हमें घाटा होता है बल्कि कांग्रेस का फायदा हो जाता है।

मायावती ने कांग्रेस और बीजेपी को एकसाथ निशाने पर लेटे हुए कहा कि, दोनों ही पार्टियों की रणनीति एक है और दोनों ही पार्टियां देश के लिए बेहतर नहीं है। बोफोर्स कांड के बाद जिस प्रकार से देश की जनता ने कांग्रेस को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाया था, ठीक उसी प्रकार से राफेल मुद्दे की वजह से लोग बीजेपी को वोट नहीं देंगे और देश में एक बदलाव होगा।

Tags:

You Might also Like

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

%d bloggers like this: