मिल श्रमिकों ने चुनाव आयोग को दी, मतदान बहिष्कार की चेतावनी

केंद्र व प्रदेश सरकार भले ही किसानों की बात करती है लेकिन बस्ती जिले में इनकी बात बेमानी साबित हो रही है। पिछले 15 दिनों से मिल कर्मियों व किसानों का धरना जारी है। जिसके चलते सैकड़ों किसानों व मील श्रमिकों ने चुनाव आयोग को फैक्स भेजकर मतदान बहिष्कार की चेतावनी दी है।

किसानों और श्रमिकों को सहायता पहुंचाने को लेकर न जाने कितनी स्कीम बनायी जाती हैं। जिन्हें देखकर लगता है कि, अब इस वर्ग के लोगों को भी सरकार की मदद मिल सकेगी लेकिन हक़ीक़त जानकर पता लगता है कि सच्चाई क्या है, ये कोई नहीं जानता और न ही जानना चाहता है। मामला उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले का है पिछले 15 दिनों से मिल कर्मियों व किसानों का धरना जारी है। बता दें कि पिछले 2 साल से किसानों का 54 करोड़ और मील कर्मचारियों का 14 महीने का वेतन 7 करोड़ रुपये बाकी है। अखिलेश सरकार की बात की जाए तो 3 महीनों का किसानों का भुगतान बाकी था और मिल कर्मचारियों का 4 महीने का भुगतान बाकी था अब सैकड़ों किसानों व मिल श्रमिकों ने चुनाव आयोग को फैक्स भेजकर मतदान बहिष्कार की चेतावनी दी है।

मिल पर धरने पर बैठे कर्मियों की मांग है कि मिल को चालू कराया जाये और हमारे बकाया धन का भुगतान कराया जाए। बकाया भुगतान न होने से उन के परिवार के सामने रोज़ी रोटी का संकट खड़ा हो गया है।

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |

नोट: अगर आप के पास इस खबर से जुडी कोई भी वीडियो है तो आप अपने नाम के साथ इस नंबर पर WhatsApp (8766336515) करे |