छत्‍तीसगढ़ में फिर से हुआ नक्‍सली हमला, हुए इतने जवान शहीद

छत्‍तीसगढ़ (सुकमा)। छत्‍तीसगढ़ के सुकमा स्‍थित किस्‍टाराम एरिया में मंगलवार को नक्‍सलियों ने आइइडी विस्‍फोट की घटना सामने आई है। इस विस्‍फोट में सीआरपीएफ के 212 बटालियन के नौ जवान शहीद हो गए। इसके अलावा सीआरपीएफ के 6 जवान घायल हैं। जिसमें से चार की हालत काफी गंभीर है। घायल जवानों को हेलीकॉप्‍टर के जरिए रायपुर पहुंचाया जा रहा है।

शहीद जवानों के शवों को हेलीकॉटर से रायपुर पहुंचाया जाएगा। परिवारों को सूचित किए जाने के बाद इनका विवरण सार्वजनिक किया जाएंगे। डीजी सीआरपीएफ छत्‍तीसगढ़ के लिए रवाना हो गए हैं।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर दुख प्रकट किया

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर नक्‍सली हमले में शहीद जवानों के प्रति दुख और संवेदना जताई है। उन्‍होंने ट्वीट में कहा,’शहीद जवानों के परिवार के प्रति मेरी सहानुभूति हैं। घायल सैनिकों के शीर्घ स्‍वस्‍थ होने की कामना करता हूं।

मैंने सुकमा घटना के बारे में डीजी सीआरपीएफ से बात की और छत्तीसगढ़ जाने को कहा है।’ नक्‍सल रोधी ऑपरेशन के स्‍पेशल डीजी, डीएम अवस्‍थी ने बताया, ‘किस्‍टाराम से पलोडी जा रही पैट्रोलिंग पार्टी पर नक्‍सलियों ने आइइडी ब्‍लास्‍ट किया। अतिरिक्‍त सैन्‍य बल मौके पर पहुंच गई है। फिलहाल फायरिंग बंद है।’

15 फीट ऊंचाई से पेड़ों पर चढ़कर नक्‍सलियों ने किया था हमला गश्‍त करने निकली थी बटालियन

बताया जा रहा है कि किस्टाराम कैंप से 212 बटालियन की टीमें गश्त में निकली थी। तभी करीब साढ़े सात बजे सुबह नक्सलियों ने उन पर फायरिंग शुरू कर दी। करीब 150 की संख्या में नक्सली वहां पर थे। उन्होंने जवानों पर अंधाधुंध फायरिंग शुरु कर दी। इसके जवाब में जवानों ने मोर्चा संभाला।

इस दौरान नक्सलियों ने कई विस्फोट किए। नक्सली जंगल का फायदा उठाकर भाग गए। शुरुआती दौर में पुलिस की ओर से दावे किए जा रहे हैं कि मुठभेड़ में नक्सली भी मारे गए हैं। हालांकि संख्या को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है। इस घटना को लेकर आईबी का पहले से अलर्ट था। इसमें नक्सलियों द्वारा बड़ी घटना को अंजाम देने की साजिश करना बताया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *