यहाँ सर्च करे

ओडिशा-आंध्र में ‘तितली’ तूफान का कहर, अब तक 1 की मौत और 3 लाख लोगों…


राजधानी दिल्ली की बात करे तो यहां अभी मौसम में कोई बदलाव नहीं है यहां मौसम सूखा है। परंतु अलवर, मथुरा और आगरा में हुई बारिश का असर यहां देखने को मिल रहा है। अधिकतम तापमान में दो डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई है। वहीं न्यूनतम तापमान भी कम हुआ है।

चक्रवाती तूफान जिसका नाम ‘तितली’ बताया जा रहा है। इस तूफान का असर उत्तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिणी ओडिशा समेत देश के कई हिस्सो में देखने को मिल रहा है। बंगाल की खाड़ी से बने दबाव के कारण आया चक्रवाती तूफान ‘तितली’ अब ज्यादा खतरनाक होता दिख रहा है। इस तूफान ने ओडिशा में दस्तक दे दी है जहां आज सुबह ओडिशा के तटीय इलाके गोपालपुर में इस तूफान का कहर देखने को मिला। बता दें यहां 140 से 150 किमी. प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चली है तो वहीं कई तेज बारिश तो कई जगहों पर भूस्खलन की भी खबर है।

ओडिशा के मौसम विभाग ने अगले 12 घंटों तक तूफानी हवाओं की चेतावनी जारी कर दी है। जहां खतरा बढ़ते देख ओडिशा में एहतियात बरतते हुए राज्य के तटीय इलाकों से करीब 3 लाख लोगों को वहां से बाहर निकाल लिया गया है। ओडिशा में 18 जिलों में रेड अलर्ट जारी किया गया है।
चक्रवाती तूफान से निपटने के लिए ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने बुधवार को एक उच्चस्तरीय बैठक की थी। ओडिशा और आंध्र प्रदेश में खतरे को देख ऐहतियातन एनडीआरएफ की टीमों को तैनात किया गया है।
चक्रवाती तूफान ‘तितली’ उत्तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिणी ओडिशा के तटीय तटों तक पहुंचने के बाद बंगाल की ओर बढ़ गया है। खबर के मुताबिक तूफान से आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले में एक शख्स की मौत हो गई है।
राज्य के मुख्य सचिव एपी पधी ने बताया की पांचों असुरक्षित जिलों में एनडीआरफ और ओडिशा डिजास्टर रैपिड एक्शन फोर्स के जवान पहले से ही तैनात हैं। जरूरत पड़ी तो सेना की भी मदद ली जाएगी। यहां ट्रेन सेवाएं प्रभावित हो गई है। स्कूल कॉलेज सब बंद हो गए है।
असुरक्षित जिले गंजाम, पुरी, खुर्द, जगतसिंहपुर और केंद्रपाड़ा।

उत्तराखंड में भी अलर्ट जारी

उत्तराखंड के देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी गढ़वाल, नैनीताल, ऊधमसिंहनगर, पिथौरागढ़ और चम्पावत में भी मंगलवार को तूफान, बारिश और ओलावृष्टि की चेतावनी जारी की गयी थी। वहीं एडीजी अशोक कुमार, अपर पुलिस महानिदेशक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, उत्तराखण्ड ने भी इस सम्बन्ध में नदी तटों, घटों व झरनों के किनारे स्नान व फोटो खींचने वाले स्थानों पर प्रर्याप्त मात्रा में पुलिस बल तैनात करने तथा चार-धाम में आने वाले श्रद्धालुओं/पर्यटकों को इस सम्बन्ध में समय से सूचित करने के आदेश दिए हैं।
राजधानी दिल्ली की बात करे तो यहां अभी मौसम में कोई बदलाव नहीं है यहां मौसम सूखा है। परंतु अलवर, मथुरा और आगरा में हुई बारिश का असर यहां देखने को मिल रहा है। अधिकतम तापमान में दो डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई है। वहीं न्यूनतम तापमान भी कम हुआ है।


Tags::

You Might also Like