Type to search

रिलेशनशिप लाइफस्टाइल

सर्दी-खांसी में क्या ‘सेक्स’ करना चाहिए या नहीं? जानें यहाँ

बदलते मौसम में अधिकतर लोग सर्दी-खांसी का शिकार होते हैं। पब्लिक ट्रांसपोर्ट से मिला इंफेक्शन हो या ऑफिस कॉलीग से सर्दी-खांसी और फ्लू के वायरस कहीं से भी आप पर हमला कर सकते हैं। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि अगर आपको या आपके पार्टनर को सर्दी-खांसी या फ्लू हो और आपका सेक्स करने का मन हो तो इंफेक्शन के समय सेक्स करना सेफ है या नहीं?



सेक्स के दौरान सर्दी-खांसी का इंफेक्शन फैलता है या नहीं यह जानने के लिए पहले यह जानना जरूरी है कि फ्लू का वायरस फैलता कैसे है? फ्लू के वायरस सांस की बूंदों से फैलते हैं। ये बूंदें सांस लेने के दौरान, खांसने, छींकने, किस करने के दौरान औऱ यहां तक की हाथ मिलाने के दौरान भी फैल सकते हैं।

फ्लॉरिडा के यूरॉलजिस्ट और सेक्शुअल हेल्थ एक्सपर्ट डॉ ब्रह्म भट्ट कहते हैं, ‘सांस संबंधी बूदें जिसमें फ्लू के वायरस होते हैं वे काउंटर के ऊपर 24 घंटे तक, हाथों पर 15 से 30 मिनट तक और बेडशीट पर 1 से 2 घंटे तक जीवित रहते हैं।’




बॉस्टन यूनिवर्सिटी के MD की मानें तो यह सामान्य नियम है कि अगर किसी को सर्दी-खांसी और फ्लू है तो सामान्य व्यक्ति को उससे 6 फीट दूर रहना चाहिए। लिहाजा कहने की जरूरत नहीं कि अगर किसी को सर्दी-खांसी है और आप उसके साथ सेक्स करने जा रहे हैं तो आपको उसके बेहद नजदीक जाना होगा। ऐसे में अगर आप इंफेक्शन का शिकार नहीं होना चाहते तो फ्लू से पीड़ित व्यक्ति के साथ सेक्स नहीं करना चाहिए।

अगर सेक्स के दौरान आपका पार्टनर खांसता है या छींकता है तो इस बात के चांसेज बहुत ज्यादा हैं कि आपको भी यह इंफेक्शन हो सकता है। ऐसे में अगर आप नहीं चाहते कि आपको भी फ्लू हो जाए तो पार्टनर के ठीक होने का इंतजार करें।

यहां बड़ी समस्या यह है कि फ्लू से पीड़ित व्यक्ति फ्लू के लक्षण दिखने से 1 हफ्ते पहले और 1 हफ्ते बाद तक संक्रामक रहता है। ऐसे में इस बात की आशंका भी ज्यादा है कि अगर आपका पार्टनर इस समय हेल्दी दिख रहा है तब भी आपको इंफेक्शन लग सकता है। फ्लू के लक्षण दिखने से पहले की समस्या के लिए आप कुछ नहीं कर सकते लेकिन फ्लू होने के 1 हफ्ते बाद तक आपको पार्टनर के साथ सेक्स करने से परहेज करना चाहिए।

अगर आप या आपका पार्टनर फ्लू से पीड़ित है तो इस दौरान इंटिमेट होने का सबसे सेफ तरीका ओरल सेक्स है। ऐसा इसलिए क्योंकि ओरल सेक्स के दौरान मुंह से मुंह का कॉन्टैक्ट नहीं होता है और सेक्स ऑर्गन्स के जरिए फ्लू के वायरस नहीं फैलते।

Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *