बाबा रामदेव की मांगों के आगे झुकी योगी सरकार- क्या बोले आचार्य बालकृष्ण

उत्तर प्रदेश उत्तराखंड राष्ट्रीय

Patanjali Food Park नहीं जाएगा नोएडा से बाहर- क्या बोले आचार्य बालकृष्ण

नोएडा: नोएडा स्थित पतंजलि फ़ूड पार्क को लेकर बाबा रामदेव और योगी सरकार के बीच छिड़ा विवाद अब ख़त्म होता दिख रहा है। दरअसल बाबा रामदेव की मांगों के आगे योगी सरकार झुकती नजर आई और शाम होते-होते बाबा रामदेव ने पतंजलि फ़ूड पार्क वापस न लेने का फैसला कर दिया।

कैसे मानें बाबा रामदेव ?

पतंजलि ग्रुप के प्रवक्ता एस के तिजारावाला के अनुसार, ‘नोएडा में बनने वाले पतंजलि फूड पार्क की जमीन के टाइटल सूट के लिए केंद्र सरकार की ओर से दो बार नोटिस भेजा गया था। लेकिन योगी सरकार की ओर से पतंजलि को टाइटल सूट नहीं सौंपा गया। यही नहीं इस वजह से दो और फूड पार्क को लेकर भी दिक्‍कत हो सकती है। सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार योगी सरकार ने इस टाइटल सूट को सौंपने का निर्णय ले लिया है। जिसके बाद बाबा रामदेव ने फ़ूड पार्क को नोएडा से बाहर नहीं ले जाने का फैसला लिया है।

NEWS1 इंडिया पर बालकृष्ण का बयान

सरकार और पतंजलि के बीच सुलह के बाद पतंजलि आयुर्वेद के मैनेजिंग डायरेक्टर और पतंजलि योगपीठ के सह-संस्थापक आचार्य बालकृष्ण ने NEWS1 इंडिया से एक्सक्लूसिव बातचीत की और इस फ़ूड पार्क को लेकर कई बातें बतायीं।

आइये जानते हैं आचार्य बालकृष्ण ने क्या कहा :-

* आचार्य बालकृष्ण ने योगी सरकार के इस फैसले पर खुसी जाहिर की और कहा, ‘बड़ी पीड़ा के साथ काम न करने का लिया था निर्णय। CM योगी ने आश्वासन दिया है। ”

* किसानों के लिए सपना देखा था- बालकृष्ण

* 8 से 9 महीने तक हम लोगों ने की है प्रतीक्षा- बालकृष्ण

* ‘फूड प्रोसेसिंग से किसानों की आय में होगी बढ़ोतरी’

* ‘किसानों को लेकर PM मोदी जी का भी सपना है’

* सरकार और बाबा के खिलाफ नहीं थी जंग- बालकृष्ण

* सिस्टम में शिथिलता से डिले हुआ- बालकृष्ण

* करोड़ों रुपए इन्वेस्टमेंट कर चुके हैं- बालकृष्ण

* ‘बॉर्डर पर सैनिक लड़ते हैं जीत हार देश की होती है।’

* ‘अफसरों की शिथिलता पर सरकार की छवि खराब होती है।’

* आश्वासन को परिणाम में देखने का इंतजार है- बालकृष्ण

* ‘600 टन एलोवेरा, मिर्च, बिस्कुट बनाने की क्षमता’

* ‘तरह-तरह के मसाले बनाने की भी व्यवस्था है नोएडा में’

* ‘देश, जनता के हित की बात हो तो पॉलिटिक्स ठीक नहीं।’

Leave a Reply

Your email address will not be published.