Type to search

बिज़नेस

डाकखाने की इस स्कीम में लगायें पैसा, हर महीने होगी मोटी कमाई

डाकखाने की इस स्कीम में लगायें पैसा, हर महीने होगी मोटी कमाई

नए साल पर अगर आप भी कर रहे हैं पैसे बचाने की प्लानिंग तो हम आपको बताने जा हैं पोस्ट ऑफिस की एक खास सेविंग स्कीम के बारे में जो सुरक्षित और फायदेमंद है। इसी के साथ आपको इस स्कीम से हर महीने अच्छी आमदनी भी होती है। यह स्कीम उन सभी के लिए बेहतर है जो या तो अपनी जमा पर एक्स्ट्रा कमाई करना चाहते हैं या ऐसे लोग जिनके पास कमाई का कोई रेग्युलर साधन नहीं है।

पोस्ट ऑफिस की मंथली इन्वेस्टमेंट स्कीम यानी POMIS में निवेश कर सकते हैं। यह एक ऐसी सरकारी योजना है जिसमें एक बार पैसा निवेश करने पर हर महीने तय आय होती रहती है। एक्सपर्ट्स इस योजना को निवेश के सबसे अच्छे ऑप्शन में से एक मानते हैं, क्योंकि इसमें 4 बड़े फायदे हैं। इस स्कीम को कोई भी खोल सकता है और आपकी जमा पूंजी हमेशा बरकरार रहती है। बैंक FD या डेट इंस्ट्रूमेंट की तुलना में आपको बेहतर रिटर्न मिलता है। इससे आपको हर महीने एक निश्चित आय होती रहती है और फिर स्कीम पूरी होने पर आपकी पूरी जमा पूंजी मिल जाती है, जिसे आप दोबारा इस योजना में निवेश कर महीने की आय का साधन बनाए रख सकते हैं।

आप अपने बच्चे के नाम से भी अकाउंट खोल सकते हैं। अगर बच्चा 10 साल से कम उम्र का है तो उसके नाम पर उसके माता-पिता या लीगल गार्जियन की ओर से अकाउंट खोला जा सकता है। बच्चे की उम्र 10 साल होने पर वह खुद भी अकाउंट के संचालन का अधिकार पा सकता है। वहीं, बालिग होने पर उसे खुद जिम्मेदारी मिल जाती है।

अगर आप का अकाउंट सिंगल है तो आप इसमें 4.5 लाख रुपए तक अधिकतम जमा कर सकते हैं। इसमें कम से कम 1500 रुपये की राशि जमा की जा सकती है। वहीं अगर आपका अकाउंट ज्वॉइंट है तो इसमें अधिकतम 9 लाख रुपए जमा किए जा सकते हैं। एक शख्‍स एक से ज्यादा लेकिन पोस्ट ऑफिस द्वारा तय लिमिट के अनुसार खाता खोल सकता है।



इसमें जमा की जाने वाली रकम पर और उससे आपको मिलने वाली ब्याज पर किसी तरह की टैक्स छूट का लाभ नहीं मिलता है। हालांकि, इससे आपको होने वाली कमाई पर डाकघर किसी तरह का TDS नहीं कटता, लेकिन जो ब्याज आपको मंथली मिलती है, उसके एनुअल टोटल पर आपकी टैक्सेबल इनकम में शामिल किया जाता है।

हर महीने के इन्वेस्टमेंट स्कीम के तहत 7.3 प्रतिशत सालाना ब्याज मिलता है। इस सालाना ब्याज को 12 महीनों में बांट दिया जाता है, जो आपको मंथली बेसिस पर मिलता रहता है. अगर आपने 9 लाख रुपये जमा किए हैं, तो आपका सालाना ब्याज करीब 65700 रुपये होगा। इस लिहाज से आपको हर महीने करीब 5500 रुपये की आय होगी। वहीं आपका 9 लाख रुपये मेच्योरिटी पीरियड के बाद कुछ और बोनस जोड़कर वापस मिल जाएगा।

अगर आप हर महीने पैसा न निकालें तो वह आपके पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट में रहेगी और मूलधन के साथ इस धन को भी जोड़कर आपको आगे ब्याज मिलेगा। स्कीम के लिए मेच्योरिटी पीरियड 5 वर्षों का है। 5 साल बाद आप अपनी पूंजी को फिर इस योजना में निवेश कर सकते हैं।

आप अपनी सुविधा के अनुसार, किसी भी पोस्ट ऑफिस में जाकर ये खाता खुलवा सकते हैं। इसके लिए आपको आधार कार्ड, वोटर आईडी, पैन कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस में से किसी एक की फोटो कॉपी जमा करनी होगी। इसके अलावा एड्रेस प्रूफ जमा करना होगा, जिसमें आपका पहचान पत्र भी काम आ सकता है। इसके अलावा आपको 2 पासपोर्ट साइज के फोटोग्राफ जमा करने होंगे।

अगर किसी जरूरत पर आपको मेच्योरिटी से पहले ही पूरा पैसा निकालना पड़ गया तो यह सुविधा आपको अकाउंट के 1 साल पूरा होने पर मिल जाती है। खाता खोलने की तारीख से 1 साल से 3 साल तक पुराने अकाउंट होने पर, उसमें जमा रकम में से 2% काटकर बाकी रकम आपको वापस मिलती है। 3 साल से ज्यादा पुराना अकाउंट होने पर, उसमें जमा रकम में से 1 प्रतिशत काटकर बाकी रकम आपको वापस मिलती है।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *