Type to search

रिलेशनशिप लाइफस्टाइल

सेक्स को लेकर ये तमाम बातें हैं झूठी, जानिए यहाँ

सेक्स से जुड़ी सोशल मीडिया की दुनिया में इतनी सारी बातें होती कि इस बात पर भरोसा करना मुश्किल हो जाता है कि आखिर कौन सी बात सही है और कौन सी गलत? सेक्स को लेकर अक्सर लोगों के दिलो-दिमाग में कई गलत धारणाएं भी होती हैं।



जानें, सेक्स से जुड़ी ऐसी ही कुछ बातों के बारे में जो पूरी तरह से गलत हैं और उनकी हकीकत क्या है:




  1. मेनॉपॉज के दौरान और उसके बाद भी बहुत सी फिमेल ऐसी हैं जो अपने हॉर्मोनल बैलेंस के साथ-साथ सेक्स में रुची को भी बरकरार रखती हैं। प्रेग्नेंसी और मेन्स्ट्रूएशन के समय भी अब सेक्स को लेकर किसी तरह की कोई चिंता नहीं रहती क्योंकि ज्यादातर महिलाएं इतनी समझदार और कॉन्फिडेंट हो गई हैं कि उन्हें पता है कि उन्हें क्या करना है।
  2. हालांकि औरतों और पुरुष दोनों में ही कामेच्छा के लिए टेस्टोस्टेरॉन काफी अहमियत रखता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि यही एक मात्र हॉर्मोन है। सेक्शुअल फंक्शन्स के दौरान बाकी हॉर्मोन्स की भी उतनी ही अहमियत होती है। महिला-पुरुष दोनों में सेक्स के प्रति इच्छा जगाने में एस्ट्रोजन का भी अहम योगदान होता है। साथ ही अगर शरीर में कॉर्टिसोल का लेवल बढ़ जाए तब भी कामेच्छा में कमी आ जाती है।
  3. किसी से रियल कनेक्शन बनवाने और रिलेशनशिप बकरार रखने के लिए काफी वक्त और एनर्जी देनी पड़ती है। अपने पार्टनर और उसके इंट्रेस्ट पर फोकस करें। आप देखेंगे कि ऐसा करने से पार्टनर के साथ आपका कनेक्शन और ज्यादा मजबूत हो जाएगा और जब कनेक्शन मजबूत होगा तो सेक्स की इच्छा दोनों तरफ बढ़ जायेगी।
  4. फिमेल की कामेच्छा मेल से कम होती है और महिलाओं में सेक्स के प्रति उतनी लालसा नहीं होती जितना पुरुषों में होती है। 2017 की एक स्टडी में यह बात सामने आयी थी कि 60 फिसदी फिमेल अपने मेल पार्टनर से ज्यादा सेक्स करना चाहतीं थीं।
  5. आप वर्जिनिटी सिर्फ फिजिकल पेनिट्रेशन की स्थिति में ही खो सकते हैं। ओरल सेक्स से सिर्फ मानिसक रूप से आप अपनी वर्जिनिटी खो सकते हैं,फिजिकल तौर पर नहीं।
Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *