Type to search

खबर राजनीति

सपा-बसपा में सीटों का फ़ॉर्मूला तय, ऐसे होगा गठबंधन! जानें यहाँ

पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के बेहतर प्रदर्शन के बाद ऐसा माना जा रहा था कि यूपी में बनने वाले गठबंधन में कांग्रेस की दावेदारी मजबूत होगी। लेकिन ऐसा होता नहीं दिख रहा। सपा और बसपा ने लोकसभा चुनाव के लिए बनने वाले गठबंधन से कांग्रेस को बाहर रखने का फैसला लगभग ले लिया है। दोनों ही दलों ने सीटों के बंटवारे का फ़ॉर्मूला भी तय कर लिया है और इसका औपचारिक ऐलान बसपा प्रमुख मायावती के जन्मदिन यानी 15 जनवरी को किया जाएगा।



सीटों के बंटवारे के जिस फ़ॉर्मूले पर सहमति बनी है उसके मुताबिक इस गठबंधन में अजीत सिंह की RLD को भी शामिल किया गया है। बसपा 38, सपा 37 और रालोद तीन सीटों पर भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोलेगी। हालांकि चुनाव परिणाम आने के बाद गठबंधन की गुंजाइश बनी रहे, लिहाजा गठबंधन कांग्रेस के गढ़ अमेठी और रायबरेली में गठबंधन प्रत्याशी नहीं उतारेगा। साथ ही समाजवादी पार्टी अपने कोटे की कुछ सीटें भी अन्य छोटे दल जैसे निषाद पार्टी, पीस पार्टी को दे सकती है। कहा जा रहा है कि सीट बंटवारे के इस फ़ॉर्मूले पर दोनों ही दलों के शीर्ष नेताओं में सहमति बन चुकी है।

बसपा प्रमुख मायावती का बर्थडे लोकसभा चुनाव के लिहाज से काफी ख़ास होगा। 15 जनवरी को मायावती का बर्थडे है और उसी दिन गठबंधन का ऐलान संभव है। बसपा मायावती के जन्मदिन को कल्याणकारी दिवस के रूप में मनाती है। लेकिन इस बार एक बड़े जलसे का आयोजन करने की संभावना है, जिसमे गैर कांग्रेसी और गैर बीजेपी दलों के नेताओं को आमंत्रित किया जा सकता है। सूत्रों का कहना है कि इसी दिन गठबंधन का ऐलान होगा, जिसमें कांग्रेस शामिल नहीं होगी।

Tags:

You Might also Like

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *