Type to search

बिज़नेस

अब अपनी लड़की के नाम से खुलवाएं 250 रूपये में ये अकाउंट और पाएं 50 लाख रूपये!

अब अपनी लड़की के नाम से खुलवाएं 250 रूपये में ये अकाउंट और पाएं 50 लाख रूपये!

अगर आप अपनी बेटी के लिए सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश करना चाहते है या फिर आपने किया हुआ तो आपके लिए खुशखबरी है। सरकार ने योजना के तहत मिलने वाली ब्याज दरें (मुनाफा) बढ़ाकर 8.5 प्रतिशत कर दी हैं। 1 अक्टूबर से नई दरें लागू हो गई है। इसका मतलब साफ है कि आपको अब ज्यादा मुनाफा मिल रहा है। बता दें कि हाल में सरकार ने ‘सुकन्या समृद्धि योजना’ में कई बड़े बदलाव किए हैं। अब इस योजना में खाता खुलवाने के लिए आपको सिर्फ 250 रुपये जमा कराने होते हैं, जो पहले 1000 रुपये थे। अगर आप भी बेटी के पिता हैं तो केंद्र सरकार की यह स्कीम आपके काफी काम की है।

सुकन्या समृद्धि योजनाः

पीएम मोदी ने ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ के तहत सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत 4 दिसंबर, 2014 को थी। ये एक छोटी बचत योजना है। इसमें लड़की के नाम से खोले गए ‘सुकन्या समृद्धि खाता’ के जरिए लाभ प्राप्त किए जा सकते हैं।

इस योजना का उद्देश्यः

यह योजना लड़की के जन्म से लेकर शादी करने तक परिजनों को आर्थिक मजबूती प्रदान करती है। मां-पिता की बेटी की पढ़ाई व शादी के लिए पैसे की टेंशन दूर करने में मदद करेगी।

सालाना जमा राशि की सीमा भी घटी:

सरकार की तरफ से आम लोगों को ध्यान में रखते हुए सुकन्या समृद्धि योजना में सालाना आधार पर न्यूनतम राशि रखने की सीमा में भी बदलाव किया गया है। पहले सालाना 1000 रुपये न्यूनतम जमा होना अनिवार्य बनाया गया था। लेकिन, अब इसे भी घटाकर महज 250 रुपये कर दिया गया है। नए नियम 6 जुलाई 2018 से प्रभाव में हैं।

कहां खुलेगा अकाउंट :

सुकन्‍या समृद्धि योजना का खाता आप किसी भी पोस्‍ट ऑफिस या बैंकों की अधिकृत शाखा में खुलवा सकते हैं। आम तौर पर जो भी बैंक PPF खाता खोलने की सुविधा उपलब्‍ध कराते हैं, वे सुकन्‍या समृद्धि योजना का खाता भी खोलते हैं।



कौन से डाक्यूमेंट्स की है जरूरत:

सुकन्‍या समृद्धि खाता खुलवाने का फॉर्म, बच्‍ची का जन्‍म प्रमाणपत्र, जमाकर्ता (माता-पिता या अभिभावक) का पहचान पत्र जैसे पैन कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट आदि। जमाकर्ता के पते का प्रमाणपत्र जैसे पासपोर्ट, राशन कार्ड, बिजली बिल, टेलीफोन बिल आदि। पैसे जमा करने के लिए आप नेट-बैंकिंग का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं। खाता खुल जाने पर जिस पोस्‍ट ऑफिस या बैंक में आपने खाता खुलवाया है वह आपको एक पासबुक देता है।

कौन खुलवा सकता है खाता :

आप यह खाता तभी खुलवा सकते हैं जब आप लड़की के प्राकृतिक या कानूनन अभिभावक हों। आप एक बेटी के नाम ऐसा एक ही एकाउंट खुलवा सकते हैं। कुल मिलाकर आप दो बेटियों के नाम यह खाता खुलवा सकते हैं लेकिन अगर दूसरी बेटी के जन्‍म के वक्त आपको जुड़वां बेटी होती है तो आप तीसरा खाता भी खुलवा सकते हैं।

आपको होंगे ये फायदें:

जब से सरकार ने सुकन्‍या समृद्धि योजना की घोषणा की है तब से इस पर PF से अधिक ब्‍याज मिल रहा है। इसमें जमा की जाने वाली राशि पर आपको आयकर अधिनियम की धारा 80सी के तहत कटौती का लाभ मिलता है। न केवल इस पर मिलने वाले ब्‍याज बल्कि मैच्‍योरिटी पर मिलने वाली रकम भी टैक्‍स फ्री होती है।

कब निकाल सकते हैं पैसे:

बेटी के 18 साल के होने से पहले आप पैसे नहीं निकाल सकते। उसके 21 साल के होने पर खाता मैच्‍योर हो जाता है। बेटी के 18 साल पूरे करने के बाद आपको आंशिक निकासी की सुविधा मिलती है। मतलब आप खाते में जमा रकम का 50 प्रतिशत तक निकाल सकते हैं। दुर्भाग्‍य से अगर बच्‍ची का निधन हो जाता है तो अकाउंट तुरंत बंद हो जाएगा। ऐसे मामले में खाते में पड़ी रकम अभिभावक को दे दी जाती है।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *