Type to search

नयी खबर
कॉमेडियन मल्लिका दुआ ने पुलवामा हमले पर दिया विवादित बयान, लोगों ने…जानें शो में सबके सामने ही क्यों रों पड़ी सिंगर नेहा कक्कड़? देखें वीडियोपंजाब विधानसभा में नवजोत सिंह सिद्धू के साथ…,जानेंडॉ शिवानी राय ने मरीजों को दिया नि:शुल्क चिकित्सा परामर्शजानें यहाँ देश और दुनिया में आज के दिन क्या हुआ था?जानें किस-किस शहर के हैं पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानपुलवामा हमले के बाद सामने आई सनसनीखेज जानकारी,आदिल से ऐसे संपर्क में था जैशभारत के बाद अब इस देश ने पाकिस्तान को दी कड़ी चेतावनी, जानेंपुलवामा हमले का मास्टरमाइंड गाजी और कामराम ढेर,जानें कौन है गाजीगृहमंत्री राजनाथ सिंह का बड़ा फैसला, सुरक्षा बलों के काफिले के दौरान अब…पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट हुई हैकअक्षय कुमार ने भारतीय सेना के लिए बनाया 36,000 करोड़ का प्लान
खबर देश

सुप्रीम कोर्ट का आदेश जांच में सहयोग करें कमिश्नर राजीव कुमार

Share
सुप्रीम कोर्ट का आदेश जांच में सहयोग करें कमिश्नर राजीव कुमार

कोलकाता में 3 फरवरी की शाम को शुरू हुआ CBI बनाम ममता बनर्जी लड़ाई का मामला आज भी जारी है। इसी मसले पर आज सुप्रीम कोर्ट में भी सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को जांच में सहयोग करने और CBI के सामने पेश होने का निर्देश दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आखिर राजीव कुमार को CBI के सामने पेश होने में दिक्कत क्या है? हालांकि तीन जजों की बेंच ने साफ किया कि राजीव कुमार की गिरफ्तारी नहीं होगी। राजीव कुमार को मेघालय के शिलांग में CBI के समक्ष एक तटस्थ स्थान पर पेश होना होगा।

धरने पर बैठीं ममता बनर्जी ने इस फैसले के बाद कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं। नैतिक तौर पर ये हमारी जीत है। राजीव कुमार ने कभी नहीं कहा कि वो जांच में सहयोग नहीं करेंगे। CBI बिना नोटिस के राजीव कुमार के आवास पहुंची। जनता के अलावा देश का कोई बॉस नहीं है। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में अगली सुनवाई 20 फरवरी को होगी।

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई ने कहा कि हम पुलिस आयुक्त को खुद को उपलब्ध कराने और पूरी तरह से सहयोग करने का निर्देश देंगे। हम बाद में अवमानना याचिका से निपटेंगे।

Tags:

You Might also Like

%d bloggers like this: