Type to search

नयी खबर
कॉमेडियन मल्लिका दुआ ने पुलवामा हमले पर दिया विवादित बयान, लोगों ने…जानें शो में सबके सामने ही क्यों रों पड़ी सिंगर नेहा कक्कड़? देखें वीडियोपंजाब विधानसभा में नवजोत सिंह सिद्धू के साथ…,जानेंडॉ शिवानी राय ने मरीजों को दिया नि:शुल्क चिकित्सा परामर्शजानें यहाँ देश और दुनिया में आज के दिन क्या हुआ था?जानें किस-किस शहर के हैं पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानपुलवामा हमले के बाद सामने आई सनसनीखेज जानकारी,आदिल से ऐसे संपर्क में था जैशभारत के बाद अब इस देश ने पाकिस्तान को दी कड़ी चेतावनी, जानेंपुलवामा हमले का मास्टरमाइंड गाजी और कामराम ढेर,जानें कौन है गाजीगृहमंत्री राजनाथ सिंह का बड़ा फैसला, सुरक्षा बलों के काफिले के दौरान अब…पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट हुई हैकअक्षय कुमार ने भारतीय सेना के लिए बनाया 36,000 करोड़ का प्लान
खबर देश रोचक तथ्य

अपनी गाड़ी पर आप नहीं लगा सकते झंडा, सिर्फ इन लोगों को है अनुमति

Share
अपनी गाड़ी पर आप नहीं लगा सकते झंडा, सिर्फ इन लोगों को है अनुमति

आपने देखा होगा कि बहुत से लोग अपनी कार के आगे भारत का झंडा लगाकर रखते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं देश के हर नागरिक को अपनी कार पर लगाने की अनुमति नहीं है. जी हां, भारतीय ध्वज दंड संहिता के अनुसार देश के कुछ ऐसे विशेष नागरिक हैं, जिन्हें झंडा लगाने का अधिकार होता है।

ये लोग लगा सकते हैं अपनी गाड़ी पर झंडा:

1.राष्ट्रपति:

भारत के राष्ट्रपति अपनी कार के आगे झंडा फहरा सकते हैं। बता दें कि राष्ट्रपति की कार के नंबरों के लिए अलग नियम होते हैं। वहीं जब कोई विदेशी गणमान्य व्यक्ति भारत सरकार की कार में यात्रा करता है तो हमारे राष्ट्रीय ध्वज को कार के दाहिनी ओर लाया जाता है और विदेशी व्यक्ति के देश के ध्वज को कार के बाईं तरफ लगाया जाता है।

2.उप-राष्ट्रपति:

भारत के राष्ट्रपति के बाद यह अधिकार भारत के उप-राष्ट्रपति के पास होता है।

3.गवर्नर और लेफ्टिनेंट गवर्नर्स:

हर राज्य के राज्यपाल अपनी कार पर राष्ट्रीय धवज लगा सकते हैं। बता दें कि कई राज्यों में उप-राज्यपाल का पद भी होता है, इसलिए उप-राज्यपाल के पास भी यह अधिकार होता है।

4.विदेशों में भारतीय मिशन के प्रमुख:

विदेशों में स्थित भारतीय मिशन और पोस्ट के अध्यक्ष भी अपनी कार पर झंडा लगा सकते हैं।

5.प्रधानमंत्रियों और मुख्यमंत्रियों के बाद लोकसभा अध्यक्ष, राज्यसभा उपाध्यक्ष, लोकसभा उपाध्यक्ष, विधान परिषद के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष, विधानसभा के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष भी इसमें शामिल है।

6.भारत के मुख्य न्यायाधीश, हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट के जज भी इस लोगों में शामिल है।

Tags:
%d bloggers like this: