Type to search

खबर देश

यूपी का ये बाहुबली नहीं कर पाया माँ का आखिरी दीदार, सदमे में छोड़ा खाना-पीना

बाहुबली कहे जाने वाले बसपा विधायक मुख्तार अंसारी मां के आखिरी बार देख भी नहीं सके। इसमें कानून की पाबंदी और जेल की दीवारें आड़े आ गईं। मुख्तार मां के अंतिम संस्कार (जनाजा) में शामिल नहीं हो पाए। मां के निधन से दुखी बाहुबली ने पूरा दिन और रात खाना नहीं खाया। मुलाकातियों से भी दूरी बनाए रखी। मां के निधन की खबर मिलने के बाद मुख्तार अंसारी सदमे में हैं।



बता दें मुख्तार अंसारी मऊ से बसपा विधायक हैं। मार्च 2017 में उन्हें बांदा जेल लाया गया था। तब से यहीं हैं। शुक्रवार की रात पैतृक नगर गाजीपुर में उनकी मां राबिया अंसारी का निधन हो गया। वह लगभग 93 वर्ष की थीं। उनके पति सुभानउल्लाह अंसारी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे। मां के निधन की खबर विधायक को शनिवार को सुबह मिली।




उन्होंने अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए अनुमति की कोशिश की। इलाहाबाद हाईकोर्ट बंद होने के कारण परिजनों और समर्थकों ने एमपी-एमएलए विशेष न्यायालय में अर्जी दी, लेकिन स्वीकार नहीं हो पाई।

इस कारण मुख्तार अंसारी मां के अंतिम संस्कार में शामिल होने नहीं जा पाए। प्रभारी जेल अधीक्षक/जेलर आरके सिंह ने बताया कि विधायक अंसारी ने जेल प्रशासन को अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए पैरोल की अर्जी नहीं दी।

Tags:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *